गुड़पारे
  • 561 Views

गुड़पारे

गुड़, तिल और गेहूं के आटे से बने गुड़पारे का स्वाद शकरपारे से अलग होता है. सर्दियों में तो यह और भी अधिक पसंद आता है.

आवश्यक सामग्री-

  • आटा - 2 कप (300 ग्राम)
  • सूजी - ½ कप (90 ग्राम
  • गुड़ - ½ कप से थोडा़ ज्यादा (125 ग्राम)
  • घी - ¼ कप से थोडा़ ज्यादा (70 ग्राम)
  • तिल - 3 - 4 टेबल स्पून
  • तेल - तलने के लिए

विधि -

गुड़ को छोटे छोटे टुकड़ों में तोड़ लीजिये, गुड़ के टुकड़े और 1/2 कप पानी एक भगोने में डाल कर गरम कीजिये, चमचे से चलाते हुए सारा गुड़ पानी में अच्छे से घुलने पर गैस बंद कर दीजिए. गुड़ के सीरप को थोडा़ ठंडा होने दीजिए और छान लीजिए ताकि इसमें अगर कोई गंदगी हो तो वह निकल जाए.

बडे़ प्याले में आटा निकाल लीजिये. इसमें सूजी, तिल और घी डालकर अच्छी तरह मिलाइये और गुड़ के पानी की सहायता से पूरी के आटे से थोडा़ सख्त आटा गूंथ कर तैयार कर लीजिए. आटे को 15-20 मिनिट, सैट होने के लिये, ढककर रख दीजिये.

आटा सैट  होने के बाद  आटे से एक बडी़ सी लोई तोड़ कर तैयार कर लीजिये, लोई को गोल करके चकले पर रखकर पेडे़ का आकार दे दीजिये और आधा सेंटीमीटर की मोटाई में बेलकर तैयार कर लीजिये. अब कटर की मदद से 1-1 इंच के गुड़ पारे काट कर तैयार कर लीजिए .

कढ़ाई में तेल डालकर गरम करने के लिये रख दीजिये, तेल के मिडियम गरम होने पर इसमें गुड़ पारे डाल दीजिए. जितने गुड़पारे कढा़ई में एक बार में आ जाएं डाल दीजिये. मध्यम और धीमी आग पर पलट-पलट कर गोल्डन ब्राउन होने तक, तल लीजिये. तले गुड़ पारे को प्लेट में निकाल कर रख लीजिये. इसी तरह दूसरी लोई बनाकर, बेलकर, गुड़पारे काट कर, इसी तरह तल कर तैयार कर लीजिये.

स्वादिष्ट और कुरकुरे गुड़ पारे बनकर तैयार है, गुड़पारे अच्छे से ठंडा होने के बाद एअर टाइट कन्टेनर में भरकर रख दीजिए और 1 माह तक खाते रहिये.
 

सुझाव-

 

  •     आटे में गुड़ और घी की मात्रा का ध्यान रखें. अगर ये ज्यादा हो जाए तो गुड़ पारे सही से नहीं बन पाते या तलते समय फट सकते हैं.
  •     आग बहुत धीमी होने पर भी गुड़ पारे फट सकते हैं.