सूजी की कचौरी
  • 2559 Views

सूजी की कचौरी

नमकीन खस्ता कचौरी कई तरह से बनाई जातीं हैं. हम उरद दाल की खस्ता कचौरी, मूंग दाल की कचौरी बना चुके हैं. आज हम सूजी की आलू मसाला भरी खस्ता कुरकुरी कचौरी बनायेंगे. सूजी की खस्ता कचौरी का कुरकुरापन उरद दाल और मूंग दाल की खस्ता कचौरी से एकदम अलग होता है और आपको बेहद पसंद आयेगा.

आवश्यक सामग्री -

  • सूजी - 1 कप (180 ग्राम)
  • आलू - 4 (300 ग्राम) उबले हुए
  • तेल - कचौरी तलने के लिए और सूजी में डालने के लिये
  • हरा धनियां - 1-2 टेबल स्पून
  • धनियां पाउडर - 1 छोटी चम्मच
  • अमचूर पाउडर - ¼ छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर - ¼ छोटी चम्मच से कम
  • अजवायन - ¼ छोटी चम्मच
  • गरम मसाला - ¼ छोटी चम्मच से कम
  • हरी मिर्च - 1 (बारीक कटी हुई)
  • अदरक - 1 इंच (बारीक कटा हुआ)
  • नमक - 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार

विधि -

उबले हुए आलूओं को प्याले में डालकर मैश कर लीजिए और इसमें 1/2 छोटी चम्मच नमक, अदरक, धनिया पाउडर, अमचूर, लाल मिर्च पाउडर, हरी मिर्च, गरम मसाला और थोडा़ सा हरा धनिया डालकर सभी चिजों को अच्छे से मिला लीजिए, स्टफिंग तैयार है.

सूजी को गूंथने के लिए, भगोने में 2 कप पानी डाल कर, गरम करने के लिये रख दीजिये, पानी में उबाल आने पर, इसमें अजवायन, 1/2 छोटी चम्मच नमक और 1 टेबल स्पून तेल डाल दीजिए और अब इसमें धीरे-धीरे सूजी डालकर मिक्स करते जाएं.

सूजी को लगातार चलाते हुए धीमी गैस पर गाढा़ होने तक पका लीजिए. सूजी के गाढा़ होने पर गैस बंद कर दीजिए और इसे नीचे उतार, चलाते हुये हल्का ठंडा होने दीजिये.


जब यह हल्का ठंडा होने लगे और हाथ से गूंथा जा सके तब हाथ पर थोडा़ सा तेल लगाते हुए इसे अच्छे से गूंथ कर तैयार कर लीजिए. आटा तैयार है, अब इस आटे से एक छोटे नींबू के बराबर लोइयां तोड़ कर तैयार कर लीजिये

अब एक लोई को हाथ से बढ़ायें, और थोडा़ सा गड्ढा़ करते हुए इसमें 1- 1½ छोटी चम्मच स्टफिंग भर कर बन्द कर दीजिए. अब इस भरी हुई लोई को दूसरी हाथ की हथेली से दबा कर चपटा करके कचौरी का आकार दीजिए और थाली में एक ओर रख दीजिए . सारी लोई इसी तरह भरकर चपटा करके रख लीजिये.

कढ़ाई में तेल डालकर मीडियम गरम कीजिये. गरम तेल में कचौरी को डालिये. एक बार में कढा़ई में जितनी कचौरी आ जाएं उतनी कचौरी डाल दीजिए. कचौरी को पलट-पलट कर गोल्डन ब्राउन होने तक तलिये, तली हुई कचौरी निकाल कर, प्लेट में बिछे नेपकिन पेपर पर रखिये. इसी तरह सारी कचौरीयां तल कर तैयार कर लीजिये.

सूजी की कचौरी बनकर के तैयार हैं, इन्हें आप हरे धनिये की चटनी या टमैटो सॉस के साथ परोसिये और खाइये.
 

सुझाव-

  •     सूजी को हल्का गरम रहने देना है इसे ज्यादा ठंडा नहीं करना है. अगर सूजी का आटा ज्यादा ठंडा हो जाएगा, तब आटा सख्त हो जाता है और कचौरी बनाने में मुश्किल होगी.
  •     अगर आटा किसी कारण से ठंडा हो जाए तो इसमें थोडा़ सा गरम पानी डाल कर इसे अच्छे से मसलते हुए गूंथ कर नरम करें और कचौरी बनाएं.