खट्टा ढोकला
  • 745 Views

खट्टा ढोकला

उरद की दाल चावल के मिश्रण से बनी गुजराती रेसिपी खट्टा ढोकला सुबह नाश्ते में या शाम को हल्की फुल्की भूख में बनाकर खाया जा सकता है. आजकल बाज़ार में इडली बाटर तैयार मिल जाता है इसलिये इसे बनाना पहले की अपेक्षा और भी अधिक आसान है.

आवश्यक सामग्री -

  • उरद की दाल और चावल का फरमेन्ट किया हुया मिश्रण (इडली बैटर) - 2.5 कप
  • खट्टा दही - आधा कप
  • हरा धनियां - 2-3 टेबल स्पून
  • तेल - 3 टेबल स्पून
  • करी पत्ता - 10-12
  • हरी मिर्च - 1-2
  • अदरक पेस्ट - 1 छोटी चम्मच
  • नमक - 3/4 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
  • राई (mustard seed) - 1/2 छोटी चम्मच
  • ईनो फ्रूट साल्ट - 3/4 छोटी चम्मच

विधि -

एक थाली जिसका व्यास 8-10 इंच हो ले लीजिये और थोड़ा सा तेल डालकर थाली को चिकना कर लीजिये. एसा बर्तन ले लीजिये कि ढोकला की थाली उस बर्तन में आसानी से आ जाय, बर्तन मे 2 कप पानी डालकर गरम करने रख दीजिये.

इडली बैटर को किसी बड़े प्याले में निकाल लीजिए, बैटर में अदरक का पेस्ट, हरीमिर्च, नमक, 2 छोटे चम्मच तेल और दही डालकर मिला दीजिये. अब ईनो फ्रूट साल्ट डाल कर मिक्स कर दीजिये, ढोकला मिश्रण को चिकनी की गई थाली में डाल दीजिये और एक जैसा फैला दीजिये.

बर्तन में पानी गर्म हो गया है, बर्तन मे एक जाली स्टेन्ड रख दीजिए उसके ऊपर ढोकला मिश्रण की थाली रख दिजिये, और ढोकला को 18-20 मिनिट तक मीडियम तेज आग पर पकने दीजिये, 20 मिनिट बाद ढोकला फूला हुआ दिख रहा है इसे गैस से उतार लीजिये, और चाकू की सहायता से ढोकला को टुकड़ों में काट लीजिये.
ढोकला में तड़का लगा दीजिये, छोटे पैन में तेल डालकर गरम कीजिये, तेल गरम होने पर राई डाल दीजिये, राई तड़कने पर करी पत्ता डाल कर भून लीजिये, तड़के को ढोकला के ऊपर चम्मच से थोड़ा थोड़ा करके चारों ओर डाल दीजिये, ऊपर से हरा धनिया डालकर कर सजा दीजिये. ढोकला को हरे धनिये की चटनी, नारियल की चटनी या चिल्ली सास के साथ में परोसिये और खाइये.


सुझाव:-

    ढोकला में आप तड़का नहीं लगाना चाहते यानि कि और अधिक तेल खाना नहीं चाहते तब ढोकला को पकाने रखते समय उसके ऊपर थोड़ा ताजा क्रस्ड काली मिर्च और लाल मिर्च डाल कर छिड़क दीजिये, और ढोकला एसे ही काट कर खाइये.
    ढोकला में जो दही मिला रहे हैं वह अगर ताजा हो खट्टा न हो तो ढोकला में 1 नीबू का रस निकाल कर डाला जा सकता है.
    इडली बैटर से बना ढोकला बिना कुछ डाले भी स्पंजी बनता है, लेकिन और अधिक स्पंजी बनाने के लिये ईनो फ्रूट साल्ट का यूज किया जाता है.