सिघाड़े या कूटू के आटे की कचौड़ी
  • 554 Views

सिघाड़े या कूटू के आटे की कचौड़ी

नवरारत्रि व्रत चल रहे हैं, व्रत में खाने के लिये नये नये व्यंजन हों तो खाने का मजा ही कुछ और है, यदि आप व्रत का खाना खाने के लिये किसी मेहमान को बुला रहे हों तो कुछ नये तरीके से बना लिया जाय तो अच्छा लगेगा. आइये आज हम सिघाड़े के आटे से कचौड़ियां बनायें.

आवश्यक सामग्री -

  • सिघाड़े (या कुटू) का आटा - 200 ग्राम या एक कप
  • आलू - 4 उबले हुये
  • हरी मिर्च - 1 (बारीक कतर लीजिये)
  • अदरक - एक इंच लम्बा टुकड़ा (कद्दूकस किया हुआ)
  • काली मिर्च - एक चौथाई छोटी चम्मच
  • अमचूर - एक चौथाई छोटी चम्मच (यदि आप चाहें)
  • सैदा नमक - एक छोटी चम्मच
  • तेल या घी - तलने के लिये

विधि-

सिघाड़े का आटा छानिये, थोड़ा सा नमक और दो छोटी चम्मच तेल डाल कर नरम गूथ लीजिये.

आलू को छीलिये, बारीक तोड़िये, हरी मिर्च, अदरक, काली मिर्च, अमचूर पाउडर और आधा छोटी चम्मच सैदा नमक डाल कर अच्छी तरह मिला लीजिये, कचौड़ी के अन्दर भरने के लिये पिठ्ठी तैयार है.

कढ़ाई में तेल या घी डाल कर गरम कीजिये, आटे से थोड़ा सा आटा तोड़िये, गोल कीजिये, दबा कर हथेली पर उंगलियों के सहारे से बड़ा कर लीजिये. बीच में एक छोटी चम्मच आलू रखिये और चारों तरफ से पूरी को उठाकर आलू को बन्द कीजिये.

आलू भरी लोई को हथेलियों से दबा दबा कर बड़ा कर लीजिये और गरम तेल में डालिये और गरम तेल में डालिये, 3-4 कचौड़ियां एक बार में डाल कर, पलट पलट कर ब्राउन होने तक तल कर निकाल लीजिये.  फिर से और कचौड़ियां तैयार करके गरम तेल में डालकर इसी तरह तल कर निकालिये. सारी कचौड़ियां तल कर तैयार कर लीजिये.

गरमा गरम सिघाड़े के आटे की कचौड़ियां (Kuttu Ki Kachori  - Singhare ki Kachori) ताजे दही के साथ परोसिये और खाइये.