राज कचौरी
  • 1128 Views

राज कचौरी

राज कचौरी के अन्दर अनेकों स्वाद भरे होते हैं. बाहर से कचौरी का कुरकुरापन लेकिन इसके अन्दर भरे मुलायम पकौड़ी, दही लपेटे आलू, भुजिया, नमकीन खट्टी मीठी चटनियों का सम्मिलित स्वाद. जब तक इसे आप खायें नहीं अनुभव नहीं कर सकते.

एक राज कचौरी आपके शाम के नाश्ते के लिये पर्याप्त और दो कचौरी पूरा पेट भरने के लिये.  होली के पकवानों (Recipes for Holi) में आप राज कचौरी को भी सम्मिलित कर सकते हैं. प्रस्तुत है राज कचौरी

आवश्यक सामग्री -

कचौरी के लिये आटा लगाइये.

  • मैदा  - एक कप (125 ग्राम )
  • सूजी मोटी-  1/4 कप ( 40 ग्राम)
  • बेकिंग सोडा - 2 पिंच
  • तेल  - तलने के लिये

कचौरी भरने के लिये -

  • मूंग की दाल की पकोड़ियां
  • उबले आलू -  छोटे छोटे कटे हुये
  • मूंग  या चना -  उबले हुये
  • ताजा दही - फैटा हुआ
  • भुना हुआ जीरा
  • काला नमक
  • सादा नमक
  • लाल मिर्च पाउडर
  • मीठी चटनी
  • हरी चटनी
  • सेव भुजिया
  • अनार के दाने

विधि-

 मैदा और सूजी को किसी बर्तन में निकालिये, बेकिंग सोडा डाल कर मिलाइये. पानी की सहायता से सख्त पूरी की तरह जैसा आटा गूथिये, आटे को मसल मसल कर नरम कीजिये. कचौरी बनाने के लिये आटा तैयार है.

भारी तले की कढ़ाई में तेल डालकर गरम कीजिये.

गूथे गये आटे छोटी छोटी लोइयां तोड़ लीजिये, इतने आटे में 14-15 लोइयां तोड़कर तैयार कर लीजिये, लोइयों को गोल करके कपड़े से ढककर रख लीजिये, ताकि वह सूखे नहीं.  एक लोई उठाइये और सूखे आटे में लपेट कर 3 - 3 .5 इंच के व्यास में बेल लीजिये. बेली हूई कचौरी को गरम तेल में डालिये, कलछी से दबाकर फुलाइये, जैसे ही कचौरी फूल जाय, कचौरी को पलट दीजिये और आग मीडियम कर दीजिये, कचौरी के ऊपर गरम गरम तेल कलछी से डालते हुये, कचौरी को गोल्डन ब्राउन होने तक तलिये.  तली हुई कचौरी किसी प्लेट या डलिया में नैपकिन पेपर बिछा कर रखिये, इसी तरह सारी कचौरी तल कर तैयार कर तैयार कर लीजिये.  राज कचौरी को ठंडा होने के लिये खुला ही छोड़ दीजिये.

कचौरी तैयार हैं, कचौरी में भरने के लिये सारी चीजें भी हमारे पास हैं. जब आप इन कचौरी को खाना चाहते हैं उसी समय इस तरह राज कचौरी को तैयार कीजिये.

कचौरी को पतले तरफ से बीच से तोड़िये और कचौरी के अन्दर ये चीजें भरने के लिये जगह बनाइये, कचौरी को प्लेट में रखिये और इस तरह भरिये, सबसे पहले 2 भीगी हुई मूंग दाल की पकोड़ी डाल दीजिये,  4-5  टुकड़े आलू डालिये, 2 चम्मच उबाले हुये मूंग,   थोड़ा सा भुना जीरा, काला नमक, सादा नमक, लाल मिर्च पाउडर,  दही, मीठी चटनी,  हरी चटनी, सेव भुजिया, अनार दाने, फिर से जीरा पाउडर, और लाल मिर्च, काला नमक, दही, चटनियां डाल कर परोसिये.

लीजिये स्वादिष्ट राज कचौरी तैयार है, खाइये और बताइये कि राज कचौरी कैसी बनी है.

कचौरी में भरने वाली सामग्री में आप अपने अनुसार कम ज्यादा कर सकते हैं और बदल भी सकते हैं, कचौरियां फूलने से रह गई हैं उन्हीं को तोड़कर राजकचौरी के अन्दर भर दीजिये, या चने की जगह उबाले हुये मटर भी डाले जा सकते हैं.


इसी आटे से जो आपने राज कचौरी बनाने के लिये तैयार किया है, आपका मन करे तो गोल गप्पे  (Pani Puri - Gol Gappa) भी बना सकते हैं.  पानी तो जलजीरा पाउडर को पानी में घोलिये मिनटों में तैयार हो जाता है.